सलाम उस खंजर को।


#सलाम_उस_खंजर_को
#YQBaba #YQdidi

Follow my writings on https://www.yourquote.in/pramod-kaushik-df0a/quotes/ #yourquote

Advertisements

8 thoughts on “सलाम उस खंजर को।”

    1. मानता हूं मेरे दोस्त कि इस दौर में भावनात्मक लेखन का कोई महत्व नहीं है लेकिन मैं व्यवसायिक मन्तव्यों की पूर्तता अथवा प्रसिद्धि के शिखर स्पर्श करने के लिए नहीं लिखता हूं समस्त रचनायें व्यक्ति अनुभूतियों अथवा व्यक्तिगत चिन्तन पर आधारित होती हैं,जैसा अनुभव प्राप्त होता है वैसा ही लिखना स्वभाव है।

      Liked by 1 व्यक्ति

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s